कम्प्यूटर एक ऐसी मानव निर्मित मशीन है जिसने हमारे काम करने, रहने, खेलने इत्यादि सभी के तरीकों में परिवर्तन कर दिया है। इसने आज दुनियाभर के लोगों के गणनाओं, डाटा के संग्रहण से लेकर अन्य बहुत सारे काम को करने में काफी मदद की है। इसने हमारे जीवन के हर पहलू को किसी-न-किसी रूप में छुआ है। यह अविश्वसनीय आविष्कार ही कम्प्यूटर है। पिछले लगभग चार दशकों में इसने हमारे समाज के रहन-सहन, काम करने के तरीके को बदल डाला है। 

कम्प्यूटर का इतिहास (History of Computer)

एबैकस (Abacus) क्या है?

इसका आविष्कार चीन में हुआ था। एबैकस एक यंत्र है जिसका उपयोग आंकिक गणना के लिए किया जाता है। गणना तारों में पिरोये मोतियों के द्वारा किया जाता है। प्राचीन समय में गणना करने के लिए एबैकस का उपयोग किया जाता था। 

पास्कल कैलकुलेटर या पास्कलाइन क्या होता है?

प्रथम गणना मशीन का निर्माण सन् 1645 में फ्रांस के गणितज्ञ ब्लेज पास्कल ने किया था। उस कैलकुलेटर में इन्टर लौकिंग गियर्स का उपयोग किया गया था, जो 0 से 9 संख्या को दर्शाता था। यह केवल जोड़ या घटाव करने में सक्षम था। अतः इसे ऐडींग मशीन भी कहा गया।

एनालिटिकल इंजन क्या होता है?

सन् 1801 में जोसफ मेरी जैक्वार्ड ने Automated weaving loom का निर्माण किया। इसमें धातु के प्लेट को छेदकर पंच किया गया था और जो कपड़े की बुनाई को नियंत्रित करने में सक्षम था। सन् 1820 में एक अंग्रेज आविष्कारक
चार्ल्स बैबेज ने Deference Engine तथा बाद में एनालिटिकल इंजन बनाया। चार्ल्स बैबेज के कॉन्सेप्ट का उपयोग कर पहला कम्प्यूटर प्रोटोटाइप का निर्माण किया गया। इस कारण चार्ल्स बैबेज को 'कम्प्यूटर का जन्मदाता' कहा जाता है। दस साल के मेहनत के बावजूद वे पूर्णतः सफल नहीं हुए।

हरमैन हौलर्थ और पंच कार्ड क्या है?

सन् 1890 के लगभग हौलर्थ ने पंच कार्ड का निर्माण किया, जो आज के Computer card के तरह होता था। उन्होंने हॉलर्थ 80 कॉलम कोड और सेंसस टेबुलेटिंग मशीन का भी आविष्कार किया।

प्रथम इलेक्ट्रॉनिक कम्प्यूटर- ENIAC क्या है?

सन् 1942 में हावर्ड यूनिवर्सिटी के एच आइकन ने एक कम्प्यूटर का निर्माण किया। यह कम्प्यूटर Mark I आज के कम्प्यूटर का प्रोटोटाइप था । सन् 1946 में द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान ENIAC का निर्माण हुआ। जो प्रथम पूर्णतः इलेक्ट्रॉनिक कम्प्यूटर था तथा इसका निर्माण Pennsylvania University के J. Presper Eckert और John Muchly ने किया था।

स्टोर्ड प्रोग्राम कॉन्सेप्ट-EDSAC क्या होता है?

स्टोर्ड प्रोग्राम कान्सेप्ट के अनुसार प्रचालन निर्देश और आँकड़ा जिनका प्रोसेसिंग में उपयोग हो रहा है उसे कम्प्यूटर में स्टोर्ड होना चाहिए और आवश्यकतानुसार प्रोग्राम के क्रियान्वयन के समय रूपान्तरित होना चाहिए। एडजैक  कम्प्यूटर कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में विकसित किया गया था, जिसमें स्टोर्ड प्रोग्राम कॉन्सेप्ट समाहित था। यह कम्प्यूटर में निर्देश के अनुक्रम को स्टोर्ड करने में सक्षम था और पहला कम्प्यूटर प्रोग्राम के समतुल्य था।

यूनिभैक-I क्या है?

सन् 1951 में व्यापारिक उपयोग के लिए उपलब्ध यह प्रथम कम्प्यूटर था। इसमें कम्प्यूटर की प्रथम पीढ़ी के गुण  समाहित थे।


कम्प्यूटर की पीढ़ी कितनी है?

कम्प्यूटर की विभिन्न पीढ़ियों को विकसित करने का उद्देश्य सस्ता, छोटा, तेज तथा विश्वासी कम्प्यूटर बनाना रहा है।

प्रथम पीढ़ी के कम्प्यूटर

यूनिभैक I पहला व्यावसायिक कम्प्यूटर था । इस मशीन का विकास फौज और वैज्ञानिक उपयोग के लिए किया गया था। इसमें Vaccum Tubes का प्रयोग किया गया था। ये आकार में बड़े और अधिक ऊष्मा उत्पन्न करने वाले थे। इसमें सारे निर्देश तथा सूचनायें 0 तथा 1 के रूप में कम्प्यूटर में संग्रहित होते थे तथा इसमें Machine Language का प्रयोग किया गया था। संग्रहण के लिए पंच कार्ड का उपयोग किया गया था। उदाहरण-इनियक, यूनिभैक। निर्वात् ट्यूब के उपयोग में कुछ कमियाँ भी थी। निर्वात् ट्यूब गर्म होने में समय लगता था तथा गर्म होने के बाद अत्यधिक ऊष्मा पैदा होती थी, जिसे ठंडा रखने के लिए खर्चीली वातानुकूलित यंत्र (Air-conditioning System) का उपयोग करना पड़ता था, तथा अधिक मात्रा में विद्युत् खर्च होती थी।

प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर की विशेषताएं -

  • इलेक्ट्रॉनिक सर्किट में निर्वात् ट्यूब का उपयोग ।
  • प्राइमरी इंटरनल स्टोरेज के रूप में मैग्नेटिक ड्रम का उपयोग।
  • सीमित मुख्य भंडारण क्षमता |
  • मंद गति के इनपुट-आउटपुट ।
  • निम्न स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा, मशीनी भाषा, असेम्बली भाषा।
  • ताप नियंत्रण में असुविधा।
  • उपयोग-पेरौल प्रोसेसिंग और रिकार्ड रखने के लिए।
  • उदाहरण- IBM 650, UNIVAC, ENIAC

दूसरी पीढ़ी के कम्प्यूटर

इस पीढ़ी के कम्प्यूटर में निर्वात् ट्यूब की जगह हल्के छोटे Transitor का प्रयोग किया गया । कम्प्यूटर में Data को निरूपित करने के लिए मैग्नेटिक कोर का उपयोग किया गया। आँकड़ों को संग्रहित करने के लिए मैग्नेटिक डिस्क तथा टेप का उपयोग किया गया। मैग्नेटिक डिस्क पर आयरन ऑक्साइड की परत होती थी। इनकी गति और संग्रहण क्षमता भी तीव्र थी। इस दौरान व्यवसाय तथा उद्योग जगत में कम्प्यूटर का प्रयोग प्रारंभ हुआ तथा नये प्रोग्रामिंग भाषा का विकास किया गया।

द्वितीय पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं -

  • ट्रांजिस्टर का उपयोग आरम्भ ।
  • प्राइमरी इन्टरनल स्टोरेज के रूप में चुम्बकीय कोर (Magnetic core) का उपयोग।
  • मुख्य भंडारण क्षमता में वृद्धि ।
  • तीव्र इनपुट-आउटपुट ।
  • उच्च स्तरीय भाषा (कोबोल, फारट्रान)
  • आकार और ताप में कमी।
  • तीव्र और विश्वसनीय ।
  • बेंच ओरिएन्टेड उपयोग-बिलिंग, पेरौल प्रोसेसिंग, इनभेन्टरी फाइल का अपडेसन।
  • उदाहरण- IBM 1401 Honey well 200CDC 1604.


तीसरी पीढ़ी के कम्प्यूटर

इलेक्ट्रॉनिक्स में निरंतर तकनीकी विकास से कम्प्यूटर के आकार में कमी, तथा तीव्र गति से कार्य करने की क्षमता का विकास हुआ। तीसरी पीढ़ी के कम्प्यूटर में ट्रॉजिस्टर के जगह इंटीग्रेटेड सर्किट (Integrated Circuit-I.C.) का प्रयोग शुरू हुआ जिसका विकास जे. एस. किल्वी (J.S. Kilbi) ने किया। आरम्भ में LSI का प्रयोग किया गया, जिसमें एक सिलिकॉन चिप पर बड़ी मात्रा में I.C. या ट्राँजिस्टर का प्रयोग किया गया। RAM का प्रयोग होने से मैग्नेटिक टेप तथा डिस्क के संग्रहण क्षमता में वृद्धि हुई । लोगों द्वारा प्रयुक्त कम्प्यूटर में टाइम शेयरिंग का विकास हुआ, जिसके द्वारा एक से अधिक यूजर एकसाथ कम्प्यूटर के संसाधन का उपयोग कर सकते थे। हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर अलग-अलग मिलना आरंभ हुआ ताकि अपने आवश्यकतानुसार यूजर सॉफ्टवेयर ले सके।

तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं -

  • इंटीग्रेटेड चिप का उपयोग ।
  • चुम्बकीय कोर और सॉलिड स्टेट मुख्य भंडारण के रूप में उपयोग।
  • अधिक लचीला (More Flexible) इनपुट-आउटपुट ।
  • तीव्र, छोटे, विश्वसनीय।
  • उच्चस्तरीय भाषा का वृहत् उपयोग ।
  • रिमोट प्रोसेसिंग और टाइम शेयरिंग सिस्टम, मल्टी प्रोग्रामिंग।
  • इनपुट आउटपुट को नियंत्रित करने के लिए सॉफ्टवेयर उपलब्ध ।
  • उपयोग-एयरलाइन रिजर्वेशन सिस्टम, क्रेडीट कार्ड बिलिंग, मार्केट फोरकास्टिग।
  • उदाहरण- IBM System/360, NCR 395, Burrough B6500

चौथी पीढ़ी के कम्प्यूटर

चौथी पीढ़ी के कम्प्यूटर में LSIIC के जगह VLSI तथा ULSI का प्रयोग आरम्भ हुआ जिसमें एक चिप में लगभग लाखों चीजों को संग्रहित किया जा सकता था। VLSI तकनीक के उपयोग से माइक्रोप्रोसेसर का निर्माण हुआ जिससे कम्प्यूटर के आकार में कमी और क्षमता में वृद्धि हुई। माइक्रोप्रोसेसर का उपयोग न केवल कम्प्यूटर में बल्कि और भी बहुत सारे उत्पादों में किया गया; जैसे-वाहनों, सिलाई मशीन इत्यादि में। रैम (RAM) की क्षमता में वृद्धि से समय की बचत हुई और कार्य अत्यंत तीव्र गति से होने लगा। मैग्नेटिक डिस्क तथा टेप के स्थान पर सेमी कन्डक्टर मेमोरी का उपयोग होने लगा। इस दौरान GUI mouse तथा अन्य hand hold डिवाइस के विकास से कम्प्यूटर का उपयोग करना अत्यंत सरल हो गया। MS-DOS, MS-Windows तथा Apple Mac OS ऑपरेटिंग सिस्टम तथा 'C' Language का विकास हुआ। Highlevel language का standardization किया गया ताकि प्रोग्राम या software सभी कम्प्यूटरों में चलाया जा सके यानि Platform dependent न हो। ये सभी छोटे तथा तीव्र क्षमता वाले कम्प्यूटर को एक दूसरे से जोड़कर Network का निर्माण किया जा सका जो आगे चलकर इंटरनेट का विकास में सहायक हुआ।

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं -

  • VLSI तथा ULSI का उपयोग।
  • उच्च तथा तीव्र क्षमता वाले भंडारण ।
  • भिन्न-भिन्न हार्डवेयर निर्माता के यंत्र बीच एक अनुकूलता ताकि उपभोक्ता किसी एक विक्रेता से बँधा न रहे।
  • मिनी कम्प्यूटर के उपयोग में वृद्धि ।
  • माइक्रोप्रोसेसर और मिनी कम्प्यूटर का आरंभ ।
  • उपयोग- इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर, व्यवसायिक उत्पादन और व्यक्तिगत उपयोग।
  • उदाहरण IBM PC-XT, एप्पल II

पाँचवी पीढ़ी के कम्प्यूटर

पाँचवी पीढ़ी के कम्प्यूटर में VLSI के स्थान पर ULSI का विकास हुआ और एक चिप द्वारा करोड़ों गणना करना संभव हो सका। Storage के लिए Compact Disk का विकास हुआ। इंटरनेट, ई-मेल तथा वर्ल्ड वाइड वेव (www) का विकास हुआ। बहुत छोटे तथा तीव्र गति से कार्य करने वाले कम्प्यूटर का विकास हुआ। प्रोग्रामिंग की जटिलता कम हो गई। कृत्रिम ज्ञान क्षमता (Artificial Intellegence) को विकसित करने की कोशिश की गई ताकि परिस्थिति अनुसार कम्प्यूटर निर्णय ले सके। PortablePC और Desktop PC ने कम्प्यूटर के क्षेत्र में क्रांति ला दिया तथा इसका उपयोग जीवन के हर क्षेत्र में होने लगा।

पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं -

  • ऑप्टिकल डिस्क का भंडारण में उपयोग।
  • इंटरनेट, ई-मेल तथा www का विकास ।
  • आकार में बहुत छोटे, तीव्र तथा उपयोग में आसान प्लग और प्ले ।
  • उपयोग- इंटरनेट, मल्टीमीडिया का उपयोग करने में।
  • उदाहरण- IBM नोटबुक, Pentium PC, सुपर कम्प्यूटर इत्यादि।


स्पेशल परपस कंप्यूटर क्या होते है?

स्पेशल परपस कम्प्यूटर : स्पेशल परपस कम्प्यूटर का उपयोग किसी एक निश्चित और विशेष तरह के कठिनाई को दूर करने के लिए किया जाता है। किसी विशेष उपयोग के लिए ऐसे सिस्टम अत्यधिक प्रभावी होते हैं। उदाहरण- स्वचालित ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम, स्वचालित एयरक्राफ्ट लैंडिंग सिस्टम इत्यादि ।

जनरल परपस कम्प्यूटर क्या होता है?

जनरल परपस कम्प्यूटर : ये किसी विशेष कार्य के लिए निर्मित नहीं होते हैं। ये एक से अधिक कठिनाइयों को दूर करने में सक्षम होते हैं तथा इनमें थोडा बहुत प्रोग्राम या निर्देश में परिवर्तन कर भिन्न-भिन्न कार्य सम्पादित किये जा सकते हैं। इनका उपयोग साधारण एकाउन्टींग से लेकर जटिल Simulation तथा Forcasting में होता है।

कार्य पद्धति के आधार पर कंप्यूटर का वर्गीकरण

डिजिटल कम्प्यूटर क्या होता है?

डिजिटल कम्प्यूटर में Data को इलेक्ट्रिक पल्स के रूप में निरूपित किया जाता है। जिसकी गणना (0 या 1) से निरूपित की जाती है। इसका एक अच्छा उदाहरण है डिजिटल घड़ी। इनकी गति तीव्र होती है तथा यह करोड़ों गणणायें प्रति सेकेंड कर सकता है। आधुनिक डिजिटल कम्प्यूटर में द्विआधारी पद्धति (Binary System) का प्रयोग किया जाता है।

एनालॉग कम्प्यूटर क्या होता है?

इसमें विद्युत के एनालॉग रूप का प्रयोग किया जाता है। इसकी गति धीमी होती है। वोल्टमीटर और बैरोमीटर इत्यादि एनालॉग यंत्र के उदाहरण हैं।

हाइब्रिड कम्प्यूटर क्या होता है?

यह डिजिटल तथा एनालॉग का मिश्रित रूप है। इसमें इनपुट तथा आउटपुट एनालॉग रूप में होता है परन्तु प्रोसेसिंग डिजिटल रूप में होता है। इनमें एनालॉग से डिजिटल कन्भर्टर (ADC) तथा डिजिटल से एनालॉग कन्भर्टर का उपयोग होता है।


आकार के आधार पर कंप्यूटर का वर्गीकरण

माइक्रो कम्प्यूटर क्या होता है?

माइक्रो कम्प्यूटर में प्रोसेसर के रूप में माइक्रो प्रोसेसर का उपयोग होता है। इसमें इनपुट के लिए की-बोर्ड तथा आउटपुट देखने के लिए मॉनीटर का उपयोग होता है। इसकी क्षमता 1 लाख संक्रियाएँ प्रति सेकेंड होती है। उपयोग– व्यावसायिक तौर पर, मनोरंजन, चिकित्सा आदि के क्षेत्र में। उदाहरण- IMAC, IBM, PS/2, IBM काम्पेटेवल ।

मेनफ्रेम कम्प्यूटर क्या होता है?

इन मशीनों की विशेषता वृहत् आंतरिक स्मृति संग्रहण क्षमता तथा सॉफ्टवेयर और पेरीफेरल यंत्रों को वृहत् रूप से जोड़ा जाना है। इसके कार्य करने की क्षमता तथा गति अत्यंत तीव्र होती है। इन सिस्टम पर Multi user विभिन्न कार्य कर सकते हैं। इसके लिए मल्टिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का निर्माण बेल (Bell) प्रयोगशाला में किया गया। उपयोग- बैंकिंग, अनुसंधान, रक्षा, अंतरिक्ष आदि के क्षेत्र में। उदाहरण-IBM-370

मिनी कम्प्यूटर क्या होता है?

ये आकार में मेनफ्रेम से काफी छोटे होते हैं। इसकी संग्रहण क्षमता और गति अधिक होती है। इसपर एक साथ Multi user काम कर सकते हैं। 80386 सुपर चिप का प्रयोग इसमें करने पर वह सुपर मिनी कम्प्यूटर में बदल जाता है। उपयोग- कम्पनी, अनुसंधान आदि में। उदाहरण- AS 400, HP 9000 और RISC 6000

पर्सनल कम्प्यूटर क्या होता है?

यह आकार में बहुत छोटे होते हैं। यह माइक्रो कम्प्यूटर का ही एक रूप है। इस पर एक समय एक ही User कार्य कर सकता है। इसका ऑपरेटिंग सिस्टम एक साथ Multitasking कर सकता है। इसे इंटरनेट से भी जोड़ सकते हैं। भारत में निर्मित प्रथम कम्प्यूटर का नाम सिद्धार्थ है। पैकमैन नामक प्रसिद्ध कम्प्यूटर खेल के लिए निर्मित हुआ था। उपयोग घरों में, व्यावसायिक रूप से, मनोरंजन, आँकड़ों के संग्रहण में इत्यादि । उदाहरण- IBM, Lenovo, HP आदि के पर्सनल कम्प्यूटर।

लैपटॉप क्या होता है?

यह PC की तरह ही कार्य करता है, परन्तु आकार में PC से भी छोटा तथा कहीं भी ले जाने योग्य होता है। CPU, Monitor, Keyboard, Mouse तथा अन्य ड्राइव भी इसमें संयुक्त होते हैं। यह बैटरी से भी कार्य करता है अतः कहीं भी इसको ले जाकर इसका उपयोग किया जा सकता है। वाई-फाई की सहायता से इंटरनेट का भी उपयोग किया जा सकता है। उदाहरण - IBM, Compaq, Apple आदि कम्पनियों के लैपटॉप ।

पामटॉप क्या होता है?

यह आकार में बहुत ही छोटा कम्प्यूटर है जिसे हथेली पर रखकर उपयोग किया जाता है। इसमें इनपुट ध्वनि के रूप में भी किया जाता है। इसे PDA भी कहा जाता है।

सुपर कम्प्यूटर क्या होता है?

सुपर कम्प्यूटर एक कम्प्यूटर है जिसकी संग्रहण क्षमता तथा गति अत्यधिक तीव्र है। यह अपनी पीढ़ी के दूसरे कम्प्यूटरों की तुलना में अत्यधिक तीव्र है। इनमें हजारों माइक्रोप्रोसेसर लगे होते हैं। यह अबतक का सबसे शक्तिशाली कम्प्यूटर है। विश्व का प्रथम सुपर कम्प्यूटर 1964 ई० में CDC 6600 था। 1976 ई० में क्रे-1 (Cray-1) जो क्रे रिसर्च कंपनी द्वारा विकसित था। यह इतिहास में सबसे सफल सुपर कम्प्यूटर है। भारत का प्रथम सुपर कम्प्यूटर परम सी-डैक द्वारा 1991 में विकसित किया गया था। वर्तमान प्रोसेसिंग क्षमता विशेषतः गणना की गति में सुपर कम्प्यूटर सबसे आगे है। इसमें मल्टी प्रोसेसिंग (Multi Processing) तथा समानान्तर प्रोसेसिंग (Parallel Processing) प्रयुक्त होता है, जिसके द्वारा किसी भी कार्य को टुकड़ों में विभाजित किया जाता है तथा कई व्यक्ति एक साथ कार्य कर सकते हैं। इसका उपयोग एनीमेटेड ग्राफिक्स, परमाणु अनुसंधान इत्यादि में होता है। पेस सीरीज के सुपर कम्प्यूटर DRDO हैदराबाद तथा अनुपम सीरीज के कम्प्यूटर BARC के द्वारा विकसित किया गया। उदाहरण-CRAY-1

कंप्यूटर के विकास के वस्तुनिष्ठ प्रश्न

1. किसने प्रथम मैकेनिकल कैल्कुलेटर का निर्माण किया था?

(a) जोसेफ मेरी जैक्वार्ड

(b) जॉन माउक्ली

(c) ब्लेज पास्कल ✔️

(d) हावर्ड आइकन


2. पैकमैन नामक प्रसिद्ध कम्प्यूटर किस काम के लिए बना था?

(a) खेल ✔️

(b) बैंक

(c) शेयर बाजार

(d) पुस्तक प्रकाशन


3. प्रथम गणना यंत्र (Calculating device) है-

(a) घड़ी

(b) डिफरेंस इंजन 

(c) अबैकस ✔️

(d) कैल्कुलेटर


4. वह कम्प्यूटर जिसका निर्माण प्रथम पीढ़ी कम्प्यूटर से पहले हुआ था-

(a) यांत्रिक

(b) विद्युत् यांत्रिक 

(c) विद्युत् ✔️

(d) ये सभी


5. किसने पंच कार्ड का आरंभ किया?

(a) पावरस

(b) जैक्वार्ड

(c) पास्कल

(d) इनमें से कोई नहीं ✔️


6. एनालॉग कम्प्यूटर क्या होता है?

(a) एक यंत्र जो भौतिक राशि जो लगातार बदलती रहती है वैसे डाटा पर कार्य करता है।

(b) यह एक अंकगणितीय उच्च स्तरीय भाषा है

(c) निम्न स्तर पर सम्प्रेषित करना ✔️

(d) ये सभी


7. लैपटॉप क्या है ?

(a) क्लिनिकल प्रयोगशाला में उपयुक्त कम्प्यूटर

(b) कॉम्पैक द्वारा निर्मित कम्प्यूटर

(c) छोटे हल्के कम्प्यूटर जो सुटकेश में आ सके।

(d) ये सभी ✔️


8. इनमें से कौन पीसी (PC) की सही व्याख्या करता है?

(a) सभी स्टाफ के लिए स्वतंत्र कम्प्यूटर

(b) हर स्टाफ के लिए उपलब्ध पर्सनल कम्प्यूटर जिसका डाटा लेयर सिस्टम से प्राप्त हो सके और स्वउत्पादकता में वृद्धि कर सके ।

(c) पेन्टियम द्वारा निर्मित कम्प्यूटर

(d) ये सभी ✔️


9. सुपर कम्प्यूटर क्या होता है?

(a) एक साथ बहुत सारे प्रयोक्ता के डाटा प्रोसेस करता है

(b) यह तीव्र तथा महंगी कम्प्यूटर सिस्टम है।

(c) बड़े संगठनों में उपयोग होता है।

(d) ये सभी ✔️


10. कम्प्यूटर का Basic Architecture का विकास किसने किया था?

(a) जॉन वान न्यूमैन

(b) चार्ल्स बैबेज ✔️

(c) ब्लेज पास्कल

(d) जार्डन मूरी


11. इनमें से कौन-सा सही नहीं है?

(a) नोटबुक कम्प्यूटर हल्का तथा नोटबुक के सदृश दिखता है

(b) पामटॉप कम्प्यूटर हल्का तथा जेब (Pocket) में आ सकता है ✔️

(c) पामटॉप कम्प्यूटर को पायो-कम्प्यूटर (Pio-computer) भी कहते हैं

(d) सुवाह्य (Portable) कम्प्यूटर को डेस्कटॉप पीसी या दूसरे कम्प्यूटर से जोड़ा जा सकता है


12. निम्नलिखित में से कौन सबसे बड़ा, सबसे तेज और सबसे महँगा कम्प्यूटर है?

(a) पर्सनल कम्प्यूटर

(b) सुपर कम्प्यूटर ✔️

(c) लैपटॉप

(d) नोट बुक 


13. पंचम पीढ़ी के कम्प्यूटरों की प्रमुख विशेषता निम्न में से कौन-सी होगी?

(a) घर-घर उपयोग ✔️

(b) बहुआयामी उपयोग

(c) कृत्रिम वृद्धि

(d) बहुत कम कीमत 


14. CRAY क्या है?

(a) मिनी कम्प्यूटर

(b) माइक्रो कम्प्यूटर

(c) मेनफ्रेम कम्प्यूटर

(d) सुपर कम्प्यूटर ✔️


15. सामान्य रूप से प्रयुक्त किया जाने वाला कम्प्यूटर है-

(a) एनालॉग कम्प्यूटर

(b) डिजिटल कम्प्यूटर ✔️

(c) आप्टिकल कम्प्यूटर

(d) हाइब्रिड कम्प्यूटर


16. ऐसे कम्प्यूटर, जो पोर्टेबल होते हैं और यात्रा करने वाले प्रयोक्ताओं (user) के लिए सुविधाजनक होते हैं, क्या कहलाते है?

(a) सुपर कम्प्यूटर

(b) लेपटॉप ✔️

(c) मिनी कम्प्यूटर

(d) फाइल सर्वर्स


17. मेनफ्रेम कम्प्यूटर के लिए मल्टिक्स आपरेटिंग सिस्टम कहाँ बनाया गया?

(a) इन्फोसिस

(b) माइक्रोसॉफ्ट

(c) जर्मन प्रयोगशाला

(d) बेल प्रयोगशाला ✔️


18. मल्टी प्रोग्रामिंग का प्रयोग किस पीढ़ी के कम्प्यूटरों से शुरू हुआ था ?

(a) प्रथम पीढ़ी

(b) द्वितीय पीढ़ी

(c) तृतीय पीढ़ी ✔️

(d) चतुर्थ पीढ़ी


19. कम्प्यूटर के आई० सी० चिप्स के उत्पादन हेतु निम्नलिखित में किसकी आवश्यकता होती है?

(a) क्रोमियम की

(b) सिलिकॉन की ✔️

(c) प्लैटिनम की

(d) सोने की


20. चार्ल्स बैवेज के प्रथम मैकेनिकल कम्प्यूटर को किस नाम से जाना जाता है?

(a) पॉमटॉप

(b) प्रोसेसर I

(c) कैलकुलेटर

(d) इनमें से कोई नहीं ✔️


21. निम्नलिखित में से कम्प्यूटर का जनक किसे कहा जाता है?

(a) मारकोनी

(b) एडीसन

(c) चार्ल्स बैवेज ✔️

(d) हरमन होलेरिथ


22. व्यक्तिगत तौर पर किस कम्प्यूटर का प्रयोग किया जाता है ?

(a) मिनी कम्प्यूटर

(b) सुपर कम्प्यूटर

(c) माइक्रो कम्प्यूटर ✔️

(d) मेनफ्रेम कम्प्यूटर


23. विश्व का सबसे पहला सुपर कम्प्यूटर कब बना?

(a) 1978

(b) 1976 ✔️

(c) 1980

(d) 1981


24. भारत में निर्मित प्रथम कम्प्यूटर का क्या नाम है?

(a) आर्यभट्ट

(b) सिद्धार्थ ✔️

(c) बुद्ध

(d) अशोक


25. पूर्व में फोट्रॉन के साथ कार्य करनेवाले कम्प्यूटर किस युग के कम्प्यूटर थे?

(a) पहले

(b) दूसरे ✔️

(c) तीसरे

(d) चौथे


26. भारत में निर्मित ‘परम कम्प्यूटर' किस प्रकार का कम्प्यूटर है ?

(a) मिनी कम्प्यूटर

(b) माइक्रोकम्प्यूटर

(c) सुपर कम्प्यूटर ✔️

(d) मेनफ्रेम कम्प्यूटर


27. सबसे तेज कम्प्यूटर कौनसा होता है?

(a) मिनी कम्प्यूटर

(b) सुपर कम्प्यूटर ✔️

(c) माइक्रो कम्प्यूटर

(d) मेनफ्रेम कम्प्यूटर


28. माइक्रोप्रोसेसर किस पीढ़ी का कम्प्यूटर है?

(a) प्रथम

(b) द्वितीय

(c) तृतीय

(d) चतुर्थ ✔️


29. प्रथम पीढ़ी के कम्प्यूटर में किस प्रकार का दोष था?

(a) छोटा आकार

(b) बड़ा आकार ✔️

(c) ऊष्मा की उत्पत्ति नहीं होना

(d) 2 तथा 3


30. गणना संयंत्र एबाकस का आविष्कार किस देश में हुआ ?

(a) भारत

(b) चीन ✔️

(c) अमेरिका

(d) यूनान


31. टेलीप्रोसेसिंग तथा टाइमशेयरिंग का प्रयोग किस पीढ़ी के कम्प्यूटर में हुआ ?

(a) प्रथम

(b) द्वितीय

(c) तृतीय ✔️

(d) चतुर्थ


32. तृतीय पीढ़ी के कम्प्यूटर में मुख्य घटक क्या  है?

(a) इलेक्ट्रॉन टयूब

(b) ट्रांजिस्टर

(c) इण्टिग्रेटड सर्किट ✔️

(d) एल एस आई


33. टेलीविजन के आकार का कम्प्यूटर निम्नलिखित में से कौन होता है ?

(a) प्रकाशीय

(b) माइक्रो ✔️

(c) सुपर मिनी

(d) मेन फेम


34. किस सुपर चिप का प्रयोग मिनी कम्प्यूटरों में लगाने से वह सुपर मिनी कम्प्यूटर बन जाता है?

(a) 80586

(b) 80386 ✔️

(c) 70508

(d) 70309


35. कार्य पद्धति के आधार पर कम्प्यूटर के कौनसे प्रकार हैं?

(a) डिजीटल

(b) एनालॉग

(c) माइक्रो

(d) 1 तथा 2 दोनों ✔️


Computer ka vikas questions in hindi, computer development, computer generation
कंप्यूटर का विकास


यह भी पढ़ें:- 

Tags : Computer ka vikas questions in hindi, computer development, computer generation, computer ki pidhiyan list, computer ka vikas pidhiya pdf download, computer gk tricks in hindi, online test quiz questions in hindi.



हमसे जुड़े

Educational Facebook Group

Join

PDF/Educational Telegram Group

Join

Educational Facebook Page

Join